in

Shree Ram Chander Ji Aarti : रामचंद्र जी की आरती

Shree Ram Chander Ji Aarti
Shree Ram Chander Ji Aarti

आरती कीजै रामचन्द्र जी की।
हरि-हरि दुष्टदलन सीतापति जी की॥

पहली आरती पुष्पन की माला।
काली नाग नाथ लाये गोपाला॥

दूसरी आरती देवकी नन्दन।
भक्त उबारन कंस निकन्दन॥

तीसरी आरती त्रिभुवन मोहे।
रत्‍‌न सिंहासन सीता रामजी सोहे॥

चौथी आरती चहुं युग पूजा।
देव निरंजन स्वामी और न दूजा॥

पांचवीं आरती राम को भावे।
रामजी का यश नामदेव जी गावें॥

What do you think?

0 points
Upvote Downvote

Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading…

0

Comments

0 comments

Shri Sai Baba Ki Aarti : आरती श्री साईं जी की

Shri Janki Nath Ji Ki Aarti

Shri Janki Nath Ji Ki Aarti : श्री जानकीनाथ जी की आरती